Top 5+ Court Marriage Process in Hindi Tips | कोर्ट मैरिज

साथियों आज हम बात करेंगे कोर्ट मैरिज के बारे में जो कोई भी कर सकता है चाहे उसका कोई भी धर्म हो लड़का का धर्म अलग हो या लड़की का धर्म अलग हो कोई भी कर सकता है. Court Marriage Process in Hindi 2022-2023.

शादी के लिए पेरेंट्स तैयार हो या नहीं चाहे वह भारतीय लड़की हो या विदेशी लड़की हो आप शादी कर सकते हो

-कोर्ट मैरिज के लिए क्या नियम है-

कोर्ट मैरिज Act 1954 के तहत कोर्ट मैरिज कर सकता है जैसे कि हम जानते हैं कि पूरा भारत एक देश है तो आप कहीं भी जाकर सुविधा अनुसार वहां की मैरिज रजिस्टर ऑफिस में जाकर शादी कर सकते हैं
जिससे कि आपकी समय और पैसे की बचत तो होती होती है और सबसे अच्छी बात की है Valid सरकारी मैरिज होती है.

Court Marriage Process in Hindi

Court Marriage Process in Hindi

Court Marriage Process in Hindi

-चलिए जाने कुछ जरूरी जानकारी-

सबसे पहले आपको बता दें कि कोर्ट मैरिज करने के लिए सबसे पहले आपको इन कंडीशन का ध्यान रखना होगा. सबसे पहले आपको बता दें कि कोर्ट मैरिज करने के लिए सबसे पहले आपको इन कंडीशन का ध्यान रखना होगा.
1- लड़का लड़की की उम्र 21 साल पूरी होनी चाहिए
2- दोनों शादी के लिए राजी होना चाहिए थोड़ी सी अगर प्रॉब्लम है तो नहीं जाना चाहिए

3- दोनों ही अनमैरिड होना चाहिए पहले से शादीशुदा नहीं होना चाहिए अगर शादीशुदा भी है तो उनका डिवोर्स हो जाना चाहिए उसका प्रूफ होना चाहिए अगर किसी केस में पिछले पति या पत्नी की मृत्यु हो जाती है तो उनका मृत्यु प्रमाण पत्र सर्टिफिकेट होना चाहिए तभी आप दूसरी शादी कर सकते हैं

4- हिंदुओं के लिए खास बात- जो आपका पार्टनर है जिससे आप शादी करने जा रहे हैं वह प्रतिबंधित संबंध वाला नहीं होना चाहिए जैसे भाई-बहन,बुआ,मौसी,मामा-मामी इत्यादि और भी हो सकते हैं आप अपने समाज के हिसाब से चेक कर ले.

-कोर्ट मैरिज अप्लाई कैसे करें-

अब आपको कुछ जरूरी डॉक्यूमेंट की जरूरत होती है ध्यान से ले जाए नहीं तो आपको प्रॉब्लम हो सकती है ध्यान से पढ़ें.

1- सबसे पहले आपको Date Off Birth प्रूफ चाहिए जैसे- आधार कार्ड ,मार्कशीट ,वोटर आईडी etc इनमें से कुछ भी होगा वह आप लेकर जा सकते हैं.
2- दूसरा आपको आईडी प्रूफ चाहिए जैसे पैन कार्ड,वोटर आईडी etc .
3- तीसरा आपको एड्रेस प्रूफ चाहिए जो कि ऊपर दिए गए डॉक्यूमेंट से पूरा हो जाएगा.
3- चौथा पासपोर्ट साइज फोटो लेकर जाएं.

सारे डॉक्यूमेंट तैयार हो जाए फिर आप कोर्ट मैरिज रजिस्टर्ड जाए.
सबसे पहले आपको डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर [ DC ] के पास जाना है अगर किसी वजह से डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर उपलब्ध नहीं होते हैं तो फिर आपको ADM के पास जाना होगा दोनों में से कोई भी हो सकता है इस बात का ध्यान रखें.

-कोर्ट मैरिज ऑफिस की प्रक्रिया-

1- वहां पर ऑफिस में जाकर आपको एक फॉर्म लेना है कोर्ट मैरिज का उसको सही से भरना है भरने के बाद जो जरूरी दस्तावेज मांगे गए हैं उसे उसमें अटैच कर दें.ध्यान दें उसमें एक एफिडेविट भी अटैच करना है डॉक्यूमेंट के साथ. सब कुछ होने के बाद आपको सारे डॉक्यूमेंट मैरिज रजिस्टार में जमा कर देने हैं.
जिसके बाद आपको 30 दिन का टाइम दिया जाता है.

2-इन 30 दिनों के अंदर क्या होता है 30 दिनों के अंदर आपकी कोर्ट मैरिज का नोटिस जारी किया जाता है इन 30 दिनों के अंदर नोटिस बोर्ड पर नोटिस और इसके अलावा और जो नेशनलाइज न्यूज़ पेपर होते हैं चाहे वह हिंदी के हो या इंग्लिश दोनों में नोटिस जारी किया जाता है.

Court Marriage Process in Hindi

Court Marriage Process in Hindi

Court Marriage Process in Hindi

-क्या नोटिस माता पिता के पास जाता है-

यह बहुत बड़ा कंफ्यूजन है जो लोग अक्सर पूछते रहते हैं लेकिन हम आपको बता दें
नोटिस रजिस्टार ऑफिस में और न्यूज़पेपर में पब्लिश किया जाता है माता पिता के घर पर नहीं भेजा जाता ना लड़का के घर पर और ना लड़की के किसी के पास नहीं भेजा जाता है. Court Marriage Process in Hindi Read Fully…

-क्या 30 दिनों के अंदर ऑब्जेक्शन हो सकता है-

अगर कोई चाहे तो ऑब्जेक्शन उठा सकता है 30 दिन के अंदर उसको कोर्ट मैरिज रजिस्टार ऑफिस में जाना होगा लेकिन उसके पास भी वैलिड प्रूफ होना चाहिए. जैसे-

1- अगर लड़के की उम्र या लड़की की उम्र मैं फर्क होता है और डॉक्यूमेंट में कुछ और होता है या लड़की या लड़का संबंधी होता है जैसे भाई-बहन मौसी बुआ इत्यादि
2- दूसरा लड़का या लड़की पहले से शादीशुदा नहीं होना चाहिए अगर है तो उनका तलाक होना चाहिए ऐसा नहीं है तो ऑब्जेक्शन जायज माना जाएगा

—-अगर कोई आपका ऑब्जेक्शन नहीं आता है तो फिर आगे का प्रोसेस ऐसे होता है—–

Court Marriage Process in Hindi

Court Marriage Process in Hindi

Court Marriage Process in Hindi

-कोर्ट मैरिज सर्टिफिकेट कैसे मिलेगा-

1-आपको कोर्ट मैरिज रजिस्टार ऑफिस से कॉल आता है और फिर आपको वहां पर पेश होना होता है
वह भी फिजिकल आप वीडियो कॉल नहीं कर सकते आपको वही जाना होगा फिजिकल यह बहुत जरूरी होता है

2- मैरिज रजिस्टार ऑफिस जब आप जाएं तो आपको 3 गवाह लेकर जाने होंगे– जो कोई भी चल सकते हैं जरूरी नहीं आपके रिलेटिव या फैमिली से ही होना चाहिए ऐसा कहीं भी नहीं लिखा है कि आपके परिवार से ही लोग होने चाहिए गवाही के लिए किसी को भी आप ले जा सकते हैं जो आपके साथ जाने के लिए तैयार है.

Court Marriage Process in Hindi

—विटनेस गवाह ले जाने से पहले ध्यान दें–

जिसको भी आप गवाही के लिए ले जाएं उनका एक पहचान करने वाला डॉक्यूमेंट ले जाए जैसे आधार कार्ड वोटर आईडी कार्ड और कुछ पासपोर्ट साइज फोटो भी ले जाए उनकी और तीनों गवाह को ले जाएं.

Tatkal court marriage

—फिर डॉक्यूमेंट प्रोसेस स्टार्ट होता है–

फिर आपको कुछ डॉक्यूमेंट की फॉर्मेलिटी भी करनी पड़ती है थोड़े से हस्ताक्षर करने पड़ते हैं
और कुछ समय बाद आपको कंफर्म हो जाता है कि आपका मैरिज सर्टिफिकेट कब मिलेगा कभी-कभी तुरंत दे दिया जाता है मैरिज सर्टिफिकेट लेकिन कभी-कभी अगले दिन भी दे दिया जाता है.

Court Marriage Process in Hindi

Court Marriage Process in Hindi

Court Marriage Process in Hindi

–न्यूज़पेपर का डर माता-पिता देख लेंगे–

Important– अगर आपको डर लग रहा है कि न्यूज़ पेपर में आएगा तो आप यह कर सकते हैं यह आपके लिए अच्छा रहेगा.

1- सबसे पहले आप जाकर मंदिर में शादी कर ले और शादी का वीडियो बना ले या फोटो खींच ले उस वीडियो और फोटो में आप जिस गवाह को ले जाना चाहते हैं उन तीनों गवाहों की वीडियो और फोटो होनी चाहिए साथ में.

2- फिर आपको मैरिज रजिस्टार ऑफिस में जाना है और वह वीडियो और अपने तीनों गवाहों के डॉक्यूमेंट के साथ और अपने डॉक्यूमेंट के साथ जाना है आपकी शादी मैरिज सर्टिफिकेट में बदल जाएगी और फिर आपको न्यूज़पेपर का भी डर नहीं रहेगा.

Court marriage documents list

–बस आपका कोर्ट मैरिज कंप्लीट हो जाता है —

Note- अगर इस प्रोसेस के दौरान आपको लगता है कि आपके पाटनर या आपको जान का खतरा हो सकता है और इस चीज से आप कंफर्म है कि हां पक्का होने वाला है तो आप कॉन्स्टिट्यूशन 21 के अनुसार प्रोटेक्शन के लिए कोर्ट में मदद मांग सकते हैं जो आपकी कोर्ट मैरिज को प्रोटेक्ट करेगा.

Court Marriage Process in Hindi

Conclusion

हो सके तो नॉर्मल शादी करें क्योंकि टेंशन बढ़ जाती है थोड़ी सी फिर भी अगर दिल से प्यार करते हैं तो आप सब कुछ सहन कर सकते हैं बस यही कहना था बाकी सब मुमकिन नहीं हो सकता है.

Court Marriage Process in Hindi

Court Marriage Process in Hindi

हम आशा करते हैं हमने सारा कवर कर लिया होगा अगर कुछ बाकी रह जाता है तो आप हमें अभी कमेंट कर सकते हैं या हमसे कांटेक्ट कर सकते हैं हमारे कांटेक्ट पेज पर जाकर आज के लिए इतना ही धन्यवाद.

Court Marriage Process in Hindi

Important :- FAQ

कोर्ट मैरिज कितने दिनों में हो जाती है?

सबसे पहले लड़का लड़की की उम्र 21 वर्ष हो जानी चाहिए कोर्ट मैरिज करने में कितना टाइम लगता है अक्सर लोग पूछते हैं हम आपको बताते हैं कोर्ट मैरिज 30-36 दिनों के अंदर हो जाता है कोर्ट मैरिज नजदीकी कोर्ट मैरिज रजिस्टार में जाकर एप्लीकेशन देनी होती है और हो जाता है।

कोर्ट मैरिज कैसे होती है?

कोर्ट मैरिज कोई भी कर सकता है इसमें कोई जातिवाद नहीं आता है चाहे लड़का या लड़की किसी भी धर्म से हो और कहीं के भी रहने वाले हो चाहे वह विदेश के हो या किसी स्टेट के हो इसके लिए दोनों राजी होने चाहिए तभी कोर्ट मैरिज हो सकती है कोर्ट मैरिज के लिए आपको कोर्ट मैरिज रजिस्टर ऑफिस जाना होगा।

कोर्ट मैरिज की फीस कितनी होती है?

वैसे तो कोर्ट मैरिज की फीस 2 टाइप से हो सकती है पहले यह Rs-50 हो सकती दूसरा Rs-100 भी हो सकता है भारतीय एक्ट के अनुसार यह पीस कंफर्म की गई है यह सिर्फ स्टांप ड्यूटी के पैसे होते हैं Court Marriage Fees .

लव मैरिज शादी कैसे करें?

Love Marriage करने के लिए आपको कोर्ट मैरिज रजिस्टार ऑफिस जाना होगा
लव मैरिज करने से पहले सुनिश्चित कर लें दोनों पक्ष इसके लिए तैयार है या नहीं.
1- प्रतिबंधित से रिश्ता नहीं होना चाहिए लड़का लड़की के बीच में जैसे- बहन भाई मौसी मम्मी चाचा चाची बुआ.
2- 30 से 36 दिनों के अंदर यह प्रोसेस होता है.
इसमें सहनशक्ति रखने की बहुत जरूरत होती है इसलिए घबराहट में ना करें.

Court Marriage Process in up

End Post- Court Marriage Process in Hindi Thanks For Reading.

More Information Visit-Wikipedia

Also Read This- बचपन की साइकिल की यादें | Childhood Cycle Story in Hindi

Leave a Comment